कोरोना महामारी के बीच में भारतीयों को नए साल की सबसे बड़ी खुशखबरी मिल। विशेषज्ञों की टीम के द्वारा सिरम इंस्टीट्यूट में कोविड-19 वैक्सीन कोविशील्ड बनाई जा रही है। जिसे आपात स्थिति में इस्तेमाल की मंजूरी की सिफारिश कर दी गई है। इस्तेमाल करने की इजाजत मिलने वाली यह वैक्सीन देश की सबसे पहली कोरोनावायरस वैक्सीन होगी। एक्सपोर्ट पैनल की इस सिफारिश को ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया DCGI  वी जी सोमानी के पास भेज दिया जाएगा और अंतिम मंजूरी का फैसला DCGI ही लेंगे।

केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (CDSCO) को कोविड-19 पर विशेषज्ञों की टीम ने शुक्रवार को एक बैठक के बाद ऑक्सफोर्ड को वैक्सीन की अनुमति देने का निर्णय लिया गया। अब इस वैक्सीन को इमरजेंसी के समय इस्तेमाल करने का रास्ता लगभग साफ हो गया है और अब केवल DCGI की अंतिम मंजूरी बाकी है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि भारत बायोटेक की वैक्सीन पर फैसले का अभी भी थोड़ा इंतजार किया जा रहा है। पुणे में स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (SII) दुनिया की सबसे बड़ी वैक्सीन निर्माता कंपनी है और इसे कोवीशिल्ड के उत्पादन के लिए AstraZeneca देने का के साथ करार किया गया है।

विशेषज्ञ पैनल ने Oxford vaccine  के लिए आपातकालीन उपयोग को अनुदान दिया
विशेषज्ञ पैनल ने Oxford vaccine के लिए आपातकालीन उपयोग को अनुदान दिया

कोविड- 19 पर विशेषज्ञ की टीम ने बुधवार के दिन टीके की आपात उपयोग की मंजूरी देने के लिए SII के आवेदन पर विचार किया और इस मामले में शुक्रवार को फिर से समीक्षा की गई। CBSCO से पहले अतिरिक्त सुरक्षा और प्रतिसुरक्षा संबंधित जानकारियां मांगी। सूत्रों के मुताबिक SII के आवेदन के बाद समिति ने भारत बायोटेक के कोविड-19 रोधी टीके वैक्सीन के इमरजेंसी में इस्तेमाल करने की मंजूरी देने के बारे में विचार शुरू कर दिया है फिलहाल अब तक इसका अंतिम निर्णय नहीं लिया गया है।

आवेदनों के अनुसार को विशेषज्ञ की टीम फिलहाल सुरक्षित है और  लक्षित जनसंख्या पर कोविड-19 की रोकथाम के लिए कोविड-19 का इस्तेमाल किया जा सकता है। SII ने ऑक्सफोर्ड के टीके के आपात उपयोग की मंजूरी के लिए 6 दिसंबर को भारत के DCGI को आवेदन किया था। दूसरी ओर हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक ने 7 दिसंबर को अपने स्वदेश विकसित वैक्सीन टीके की मंजूरी के लिए भी अर्जी दाखिल कर दी है, फइज़र कंपनी ने अभी तक अपनी टिके को नियामक मंजूरी देने के लिए 4 दिसंबर को आवेदन किया था।

Write A Comment