आज हम बात करने वाले है TRP के बारे है, यदि आप TV Serial देखते है तो आप Trp के बारे में तो जानते ही होगे और नही भी जानते कि Trp का मतलब क्या है, तो इसके बारे आज हम आपको पूरी जानकारी बताने वाले है। हम Tv serial देखते हुए अक्सर सुनते रहते है कि किसी Channel की trp गिर गई है या किसी चैनल की trp बढ़ गई है।  

अक्सर यह भी हमे सुनने और देखने मे आता है, की  किस Channel की Trp सबसे ज्यादा चल रही है और  किस channel की कम चल रही है। लेकिन हम यह नही जानते है, की  (Television rating point ) TRP means क्या होता है और इसका महत्व क्या है? इसकी गणना किस तरह से की जाती है। इसके साथ ही आप अगर यह नही जानते है, कि trp channel के लिए कितना मायने रखती है और इसका महत्व क्या है ,तो आइए आज हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देने की कोशिश करेंगे। 

TRP क्या है(What is Trp)

Television Rating point को short में TRP कहा जाता है। जिसके आधार पर  Tv पर आने वाले Channels और Shows के बारे मे यह बताया जाता है, कि कौनसा Tv channel या show सबसे ज्यादा देखा जा रहा है। इसके आधार पर ही हम यह जान पाते है कि Tv पर आने वाले shows , news channel  में से सबसे अधिक कौनसा program या Tv channel लोगो को के बीच पसंद किया जा रहा है। 

यहाँ भारत मे TRP में top पर चल रहे Tv shows या channel का अनुमान indian Television Audience measurment  नाम की agency द्वारा लगाया जाता है। इस Agency में Trp का अनुमान frequency के आधार पर लगाया जाता है, कि कौनसा channel या  Show  सबसे ज्यादा देखा गया है। इसी तरह से देश भर में प्रसिद्ध Tv show और channel का अनुमान के हजार Frequency का विवरण करके लगा लेती है। 

जिस channel और show को दर्शक सबसे ज्यादा देख रहे है उस channel या show की popularity उतनी ही अधिक होती है साथ ही उस channel की trp भी अधिक हो जाती है। Trp के base पर ही हमे यह पता चलता है कौनसा channel दर्शकों में सबसे अधिक popular है। Advertisement componies भी इस trp के आधार पर Advertisement के लिए channels को select करती है। 

TRP Rating कैसे तय होती हैं?

TRP rating जानने के लिये भारत की Indian Television audience measurment Agency विभिन frequency की जांच करती है। जिसके बाद यह पता लगता है, कि कौनसा channel कितनी बार देखा जा रहा है और इसके आधार पर ही पता चलता है, की कौनसा Tv channel सबसे अधिक लोकप्रिय है। 

TRP की full form क्या है? जानिए Trp का मतलब क्या है

इस प्रकार से यह agency कई हजार frequency का विवरण करती है जिसके बाद देश के सबसे अधिक देखे जाने वाले popular Tv channel का पता लगाया जाता है। अब आपको यह सवाल होगा कि Trp का पता कैसे लगाया जाता है। इसके लिए  Agency पीपल मीटर(people meter) नाम के एक Gadget का प्रयोग करती है। जिसकी मदद से यह tv देखने वालों पर नजर रखे रहती है। 

आपको बता दे TRP मापने के लिए एक जगह पर यह मीटर लगा दिया जाता है। जिसकी मदद से वह ये पता लगा पाते है, की कौनसा Tv channel देखा जा रहा है। इस  मीटर की मदद से monitering team द्वारा हर मिनिट का watching data एजेंसी को भेज दिया जाता है। जिसके बाद सबसे अधिक( TRP) Television rating point वाले चैनलो की सारणी तैयार कर दी जाती है। 

यह सारणी साप्ताहिक और महीने के trp data पर तैयार की जाती है। जिसे agency द्वारा हर बार सार्वजनिक रूप से बता दिया जाता है। इस list में केवल top 10 Tv Channels और shows को बताया जाता हैं। भारत के कुछ television serial है जिन्हें हिंदी channels  में सबसे अधिक channels on television in hindi के award मिल चुके है। जिनमे बहुत से famous tv channel है। आपने सबसे अधिक देखे जाने वाला show The kapil sharma show के बारे में तो सुना ही होगा।

 जिनकी बजह से उनके channesl की TRP बहुत तेजी बढ़ी थी। ऐसे ही भारत के कुछ TV Channels की list हमने आपको दी हुई है जो अक्सर ही top TRP channel में आते रहते है।

● sony 

● Colors 

● zee tv 

● NDTV आदि। 

आजकल TV चैनलो की TRP बढ़ाने का मुख्य जरिया Facebook भी बन गया है, जहाँ से tv चैनलो के show उनकी targeting audience तक पहुँचायी जाने लगी है,हम कह सकते है कि किसी चैनल की TRP rating Facebook के निवेश आर्डर पर भी आंकलित होने लगी है। जहाँ TRP खरीदारी के जरिये आप कई देशों और वहाँ के लोगो को टारगेट करके audience तक पहुँचाती है।

TRP का क्या महत्व है

Trp किसी भी channel की popularity को बताती है, जिसकी वजह से अधिक trp वाले channels की popularity सबसे अधिक और कम trp वाले channels की popularity कम होती है। जिसकी वजह से उस Channel को advertisementt कम मिलने लगते है। 

इसिलिये इसका connection channel की कमाई से जुड़ा हुआ है। Advertisement componies के लिए TRP का महत्व सबसे अधिक होता है क्योकि Advertisement componies सबसे अधिक Trp वाले channels को ही advertisement करने के लिए देती है। जिसका फायदा यह है, उन्हें अधिक दर्शक advertise करने के लिए मिलते है  और उन componies की कमाई भी trp पर depend करती है। 

उनके advertisement को जितने अधिक लोग देखते है उन्हें उतना अधिक मुनाफा होता है। TRP के आधार पर ही वे यह अनुमान लगा पाते है कि उन्हें किस channel पर ad देने से फायदा हो सकता है।  उदाहरण के लिए जिस shop से ज्यादा माल खरीदा जाता है उसकी कमाई अधिक होती है ठीक इसी प्रकार से जिस channel की trp अधिक होती है उस channel से उतने ही अधिक contract उन्हें मिल जाते है। 

यही वजह रहती है कि हर channel अपनी Trp बढ़ाना चाहता है जिससे उनके पास अधिक advertisement आये और अधिक कमाई हो। Trp बढ़ने से न केबल channels को फायदा होता है बल्कि इस channel पर काम करने वाले कलाकारों को भी इसका फायदा मिलता है। 

TV चैनल की TRP कैसे चेक करते है 

Tv channel की trp लगाने के लिए (indian television audience measurment ) agency Trp मापने के gadget पीपल मीटर (people meter) का उपयोग करती है। जिसकी मदद से specific frequency वितरण की गणना करके पता लगाया जाता है कि कौनसा चैनल कहाँ देखा जा रहा है। इस मीटर की मदद से एक एक मिनिट की informantion, frequency data collect करने की team सीधे indian television audience measurment agency को भेज देती है। 

उसके बाद उस channel की trp को agency द्वारा  बता दिया जाता है। खाश बात यह है TRP का पता लगाने के लिए आपके SETUP BOX लगाया जाता है इस setup box की मदद से ही आपके द्वारा देखे जाने वाले हर channel की निगरानी की जाती है। जिसके आधार पर ही TRP की गणना की जाती है। 

TRP से TV चैनल की Income कैसे होती है 

आप लोग tv तो देखते ही होंगे, जहाँ किसी tv channel पर serial देखते हुये break के time ad आने लगते है। यह advertisement ही उस channel की कमाई का महत्वपूर्ण जरिया होते है।  इन ads की बजह से ही tv channels की कमाई होती है। बहुत सी advertisemsnt componies channels पर अपने ads देने के लिए channels को advetisement के लिए करोङो रूपये दे देती है।

 

TRP की full form क्या है? जानिए Trp का मतलब क्या है

ऐसे में ये advertisemnet componies ऐसे channels को target करती है जिनकी trp सबसे अधिक होती है। इसका फायदा उन्हें यह होता है कि उन्हें अपने advertisement दिखाने के लिए अधिक लोगो तक पहुंचाने में आसानी होती है जिसका सीधा असर उनकी कमाई पर होता हैं। इस वजह से ही बहुत से advertisement componies अपने products के ad देने के लिए high TRP channels को चुनती हैं। आप जितने भी channels देखते है जैसे Sony ,colors ,Zee tv आदि इन channels की कमाई का मुख्य जरिया इन पर आने वाले advertisement ही होते है।

 जिन channels की trp अधिक होती है उस channel पर विज्ञापन componies भी अपने advertisement दिखाने के लिए अधिक रुपये देने के लिए तैयार हो जाती है।हम कह सकते है जिस channel की Trp जितनी अधिक होती है उस चैनेल पर उतनी ही अधिक componies अपने advertisement दिखाती है और उतनी ही अधिक उस channel की कमाई भी होती है।

TRP Rating कम -ज्यादा होने से क्या प्रभाव पड़ता है?

किसी भी channel की trp उस channel की  popularity और उसकी कमाई को दर्शाती है। ऐसे में जब किसी channel की trp गिर जाती है या बबढ़ जाती है तो इसका असर उनके channel की कमाई पड़ता है। जब किसी channel की trp बढ़ जाती है तो उस channel की popularity तो बढ़ती ही है साथ ही उस channel की कमाई भी बढ़ जाती  है। जब किसी channel की लोकप्रियता बढ़ती है उसका सीधा कारण उसकी बढ़ी हुई trp ही होती है।

 

TRP Rating कम -ज्यादा होने से क्या प्रभाव पड़ता है?

जब channel की trp बढ़ जाती है तो उस channel पर advertisement componies भी बढ़ जाती है और उसपर आने वाले advertisement भी बढ़ जाते है। इसके साथ ही उस channel पर दिखाये जाने के लिए  advertisement के लिये channel अधिक रुपये भी लेने लगता है। 

इसके दूसरी तरफ अगर किसी channel की trp कम हो जाती है तो उस channel की लोकप्रियता तो कम हो ही जाती है साथ ही उस channel  पर आने वाले advertisements कम हो जाते है। या advertisement componies उस channel पर ad देना बंद कर देती है। जिससे chanel की कमाई कम हो जाती है या channel घाटे में चला जाता है। 

उदाहरण के लिए  किसी भी चैनल पर काम करने वाले कलाकारों की संख्या अगर 4 है और उन चारों कलाकरों की fees कुल 4 लाख रुपये है।ऐसे में उस channel पर advertisement से हुआ मुनाफा अगर 20 लाख तो उस channel को कलाकरों की फीस देने के बाद 16 लाख रुपये का मुनाफा हो जाता है। साथ ही उस channel पर काम करने वाले कलाकारों को भी इसका फायदा होता है। 

लेकिन इसके दूसरी तरफ channel की  trp कम होने से advertisement भी कम हो जाते है और उस channel की कमाई भी कम हो जाती हैं। ऐसे में उस channel के मालिक को कभी कभी उसके channel पर काम करने वाले कलाकरों को अलग से रुपये देने पड़ जाते हैं। 

Conclusion 

अगर आपको हमारे द्वारा दी गयी जानकारी” trp full form क्या है?जानिए trp की पूरी जानकारी” अच्छी लगी है तो इसे share जरूर करे। हमे उम्मीद है आपको हमारा लेख पसंद आया होगा और आपके लिए knowledgable भी रहा होगा। साथ ही अब आपको पता चल गया होगा TRP क्या होती है। अगर आपको हमारे लेख से सम्बन्धित कोई सवाल हो तो आप हमें Comment करके पूंछ सकते है। हमसे जुड़े रहने के लिये हमारे page को जरूर follow करें। 

Write A Comment